Category: FESTIVALS

शनि आमावस्या की पूजा, दान और मंत्र

शनि देव को नौ ग्रहों में न्याय का देवता माना जाता है।इस बार ज्येष्ठ मास की अमावस्या 3 जून 2019 को है। जिसे शनि जंयती के रूप में भी मनाया जाएगा। इस बार 3 जून 2019 की तिथि खास है क्योंकि आज के दिन शनि अमावस्या, सोमवती अमावस्या और वट सावित्रि व्रत तीनों ही हैं। …

Continue reading

वट सावित्री व्रत पूजा-विधि

वट सावित्री व्रत ज्येष्ठ कृष्ण अमावस्या को मनाया जाता है। इस बार वट सावित्री का व्रत 03 जून 2019 (सोमवार) को है। वट सावित्री व्रत की कथा सत्यवान-सावित्री की कथा जुड़ी हुई है। जिसमें सावित्री ने अपने संकल्प और श्रद्धा से, यमराज से, सत्यवान के प्राण वापस ले लिए थे। वट सावित्री व्रत पर महिलाएं …

Continue reading

कालाष्टमी कालभैरव जयंती में किस देवता की पूजा की जाती है

भारतीय धर्म ग्रंथों के अनुसार हर हिंदू माह की कृष्ण पक्ष की अष्टमी को कालाष्टमी मनाई जाती है। इसे ‘भैरवाष्टमी’ भी कहते हैं। इस महीने कालाष्टमी 26 अप्रैल 2019 (शुक्रवार) को है. हिंदू धर्म में यह माना जाता है कि कालाष्टमी के दिन ही भगवान शिव ने भैरव का रूप धारण किया था। इस दिन …

Continue reading

हनुमान जयंती: किस कामना के लिए हनुमान जी को क्या चढ़ाएं

इस वर्ष 19 अप्रैल को हनुमान जयंती मनाई जाएगी जिसका अपना अलग ही महत्‍व है। हनुमान जयंती (Hanuman Jayanti) बजरंगबली के जन्म दिवस के रूप में मानते हैं। हनुमान जयंती के दिन हनुमानजी की उपासना व चोला चढ़ाने से शुभ ऊर्जा-शक्ति मिलती है। जिनके कष्टों का अंत ना हो रहा हो वे बजरंगबली को तेल-सिंदूर …

Continue reading

नवरात्र के दिनों में अंजाने में भी ना करे ये ग़लतियाँ

नवरात्रि 2019: नवरात्रि का त्योहार देशभर में बड़े हर्ष और उल्लास के साथ मनाया जाता है। इस साल नवरात्रि का त्योहार पूरे भारत वर्ष में 6 अप्रैल से शुरू होगा। इस त्योहार में देवी दुर्गा के  नौ अलग-अलग रुपों की पूजा अर्चना की जाती है। दुर्गा का मतलब जीवन के दुखों को मिटाने वाली होता …

Continue reading

नवरात्रि पूजन विधि, अखण्ड ज्योति व जौ की बुवाई का महत्व

नवरात्रि के पहले दिन घट स्थापना की जाती है। घट स्थापना ब्रह्मांड का प्रतीक माना जाता है, जिसे घर की शुद्धि व खुशहाली के लिए पवित्र स्थान पर रखा जाता है। दुर्गा पूजा का सकंल्प दुर्गा पूजन शुरू करने से पहले सकंल्प लें। संकल्प करने से पहले हाथों में जल, फूल व चावल लें। सकंल्प में …

Continue reading

चैत्र नवरात्रि में माता के 9 रूपों को चढ़ायें 9 प्रकार के भोग

गर्मियों के मौसम में शुरु होने वाली चैत्र नवरात्रि दो ऋतुओं  के एक साथ मिलने पर होती है। इस संधि काल में ब्रह्मांड से अनंत शक्तियां प्राप्त होती हैं, जो हमें ऊर्जा के रूप में मिलती है। चैत्र नवरात्रि के उपवास का धार्मिक ही नही वैज्ञानिक भी महत्व है। मान्यता है कि चैत्र के दौरान …

Continue reading